Stationery Shop Kholna: Excellent Business Idea for Student 2024

“Stationery Shop: किताबो का पियर”

दोस्तों, काफी पढाई करली है पर अपनी पसंदीदा नौकरी ढूंढते-ढूंढते थक गए है फिर भी नौकरी नहीं मिली तो क्या करे? तो दोस्तों इसमें चिंता की कोई बात नहीं थोडा धीरज से काम लो क्या आप बिना नौकरी के कुछ नहीं कर सकते? क्या धीरुभाई अंबानी नौकरी करके अरबोपति बने? गौतम अडानी ने नौकरी करके इतनी प्रोपर्टी बनायीं? नहीं ना तो जरा सोचकर देखिये ! वे लोग बिना नौकरी के बड़ी-बड़ी कंपनी के मालिक बने तो क्या हम नहीं बन सकते? क्या हम इन लोगो से अलग है? जो उन लोगो के पास दिमाग है वो हमारे पास भी है लेकिन इस दिमाग का सही तरीके से हमने इस्तेमाल नहीं किया और उन्होंने किया सिर्फ इतना सा फर्क है।

मेरा कहने का मतलब इतना है की नौकरी ना मिलने पर दुखी होकर बैठने की जरुरत नहीं है आपके पास नौकरी से भी बहेतर ऑप्शन है “बिजनेस”। अरे हाँ अपना पसंदीदा बिजनेस को सही ढंग से शुरू किया जाए तो वो आपको करोडपति या अरबोपति बना सकता है, हालाकि यह नौकरी में संभव नहीं है।

यदि आप भी  इनमे से एक है और कमाई करने का अवसर ढूंढ रहे है तो आप सही जगह पर आये है। आज हम इस लेख मे एक ऐसे बिजनेस की चर्चा करेंगे जो आपको पुस्तकों से दोस्ती के साथ अच्छी कमाई प्रदान करेगा। जो अपने सपनो को साकार करने में भी मददगार साबित होगा। जिसका नाम है- “Stationery Shop Business” 

Stationery Shop कौन खोल सकता है?

स्टेशनरी की दुकान कोई भी व्यक्ति खोल सकता इसके लिए कोई निच्चित लायकात की जरुरत नहीं है। यह व्यवसाय को स्टूडेंट के अतरिक्त प्रोफेशनल नौकरियों में से रिटायर्ड पर्सन भी कर सकता है जिसको ज्यादातर पुस्तकों से लगाव है। हालांकि, दुकान चलाने के लिए व्यापारिक और निवेश से संबंधित ज्ञान और अनुभव की आवश्यकता होती है। तो यह व्यवसाय को शुरुआत से लेकर कमाई करने तक की पूरी प्रक्रिया को समजते है।

Stationery Shop Ya Books Store Kaise Khole

दोस्तों, बाकि व्यवसायों के सामान Stationery Shop को शुरू करने के लिए सबसे पहले बिज़नेस प्लानिंग करनी होगी। स्टेशनरी दुकान साइज़ चयन करना, इन्वेस्टमेंट की प्लानिंग करना, मार्केटिंग करना स्थान का चयन करना आदि।

Stationery Shop के लिए साइज़ अनुमानित करे

सबसे पहले आपको स्टेशनरी दुकान की साइज़ का अंदाजा लगाना होगा। आप छोटे पैमाने पर दुकान खोलने जा रहे हे या बड़े पैमाने पर इसके लिए आप पहले खर्चो का लिस्ट तैयार करले जैसे की दुकान का किराया, बिजली बिल, फर्नीचर, और दुकान में रखनेवाला सामान इत्यादि। इससे आपको दुकान शुरू करने में लगने वाली लागत का पता चलेगा। खर्च और लगने वाली लागत को अपने बजेट के साथ तुलना कर सकते हैं और अपनी स्टेशनरी दुकान की साइज़ तय कर सकते है।

स्थान का चयन

दुकान की साइज़ तय करने के बाद बात आती है दुकान स्थापित करने की। दुकान स्थापित करने के लिए आपको अपने आसपास के इलाको में बाजार अनुसंधान करना होगा। अनुसंधान करने से आपको यह पता लगेगा की अपने बिजनेस के प्रतिस्पर्धी कितने है? कोनसे स्टेशनरी सामान बिक रहे है? अपने व्यवसाय रिलेटेड बाजार में किन चीजो की मांग है आदि, इससे आपको स्थान चुनने में मदद मिलेगी।

Stationery Shops ज्यादातर कोलेज, स्कूल या फिर जहापर सरकारी ऑफिस ज्यादा होती है इसके नजदीक देखने को मिलती है आप भी इन मेसे किसी एक जगह को पसंद कर सकते है। इसके अलावा नजदीकी बाजार में जहा सड़क सर्कल है ऐसी जगह पर भी एक कमरा लेकर अपनी दुकान स्थापित कर सकते है।

Stationery Shop के लिए इन्वेस्टमेंट

स्टेशनरी स्टोर के लिए इन्वेस्टमेंट अपने बजट पर आधारित है फिर भी आपको व्यवसाय को स्थापित करने के लिए कुछ खर्च उठाने पड़ते है।

books-store-kaise-khole

बिल्डिग या कमरा

स्टेशनरी स्टोर छोटे पैमाने पर शुरू करते है तो आपको एक कमरे की आवश्यकता पड़ेगी या फिर व्यवसाय को बड़े पैमाने पर शुरू करने जा रहे है तो आपको बिल्डिंग खरीदनी या फिर किराये पर लेनी होगी। कमरे का मूल्य और किराया या फिर बिल्डिंग का मूल्य और किराया स्थापित इलाको पर आधारित होते है यदि छोटे गाँव में व्यापार शुरू करने जा रहे है तो दोनों का किराया और मूल्य कम होगा ऐसे ही यदि शहर में स्टेशनरी शॉप खोलने का विचार कर रहे है तो वहा ज्यादा होंगे।

गाँव में कमरे का किराया : अंदाजित ३००० से ७००० 

शहर में कमरे का किराया : अंदाजित ८००० से १५००० 

फर्नीचर

Stationery Shop मे पुस्तक एवं Stationery चीजे रखने के लिए अलमारी, स्टैंड या मेज की जरुरत पड़ेगी इसलिए थोडा आपको फर्नीचर मे इन्वेस्टमेंट करना पद सकता है। किताबो को रखने मे जितनी सहजता होगी इतनी बिक्री के टाइम सरलता होगी। फर्नीचर कराने मे आपको २५००० से लेकर ५०००० तक का खर्चा करना पद सकता है।

स्टेशनरी के लिए इन्वेस्टमेंट

अपनी स्टेशनरी शॉप में क्या-क्या रखना चाहते है उसके हिसाब से आप बुक्स स्टोर मे इन्वेस्टमेंट कर सकते है। अंदाजित एक छोटी स्टेशनरी शॉप खोलने के लिए 50 हजार से लेकर 1 लाख रुपये आपके पास होने चाहिए।  

कृपया ध्यान रखे की आप अपने जमा पूंजी मे से  ७० प्रतिशत अमाउंट बिजनेस में लगा सकते है बाकि 30 प्रतिशत आपके पास जमा रहने दे ताकि भविष्य में आपातकालींन समय में काम आये।

Stationery Shop के लिए माल कहासे लाये

अपनी स्टेशनरी शॉप के लिए आप तीन जगह से माल-सामान का इंतजाम कर सकते है। पहला अपने स्थानीय उत्पादको- उनके पास बाजार के आवश्यकताओ के अनुसार माल खरीद सकते है। दूसरा है थोक विक्रेताओ – आम तौर पर थोक में स्टेशनरी खरीदने से काफी डिस्काउंट मिलता है इसलिए आप नजदीकी कोई थोक विक्रेता से संपर्क करके उनके पास स्टेशनरी सामान खरीद सकते है। तीसरा ऑप्शन है ऑनलाइन विक्रेता- उच्च गुणवत्ता और उपयुक्त मूल्य के लिए आप ऑनलाइन विक्रेताओ से स्टेशनरी खरीद सकते है। यहाँ भी आप थोक में ऑनलाइन ऑर्डर करते है तो काफी अच्छा डिस्काउंट मिल जाता है और व्हीकल का खर्च भी बच जाता है।

Stationery Shop के लिए लाइसेंस

स्टेशनरी शॉप की शुरुआत करने के लिए आपको ‘शॉप एंड एस्टेब्लिशमेंट एक्ट’ के अंतर्गत अपनी दुकान का पंजीकरण कराना होगा। इसके साथ ही आपको स्टेशनरी शॉप के नाम से पैन कार्ड बनवाना होगा। सरकार के नए नियमों के अनुसार स्टेशनरी दुकान का बिजनेस शुरू करने के लिए आपके पास आधार प्रूफ भी होना चाहिए । इसके अलावा आपके टेक्स संबंधी कार्य जैसे की GST रजिस्ट्रेशन भी कर लेना आवश्यक है।

Stationery Shop के लिए मार्केटिंग कैसे करे?

Stationery-Shop-business-idea

स्टेशनरी दुकान खोलने के बाद अपनी दुकान की मार्केटिंग करना बेहद जरुरी है। इसके लिए आप अपनी stationery shop के लिए बैनर छपवा सकते है। भीडभाड वाली जगहों पर पोस्टर चिपका सकते है। यदि आपके पास कुछ ऑफर रखने की सुविधा है तो वो भी मार्केटिंग करने में मददगार साबित होंगे। यदि आप सोशल मिडिया का इस्तेमाल करते है तो वो भी आपकी स्टेशनरी दुकान को प्रमोट करने में मदद करते है।

Stationery Shop खोलने मे मुनाफा कितना मिल सकता है

हर कोई व्यवसाय में मुनाफा कमाने के कही सारे अलग-अलग प्रकार के तरीके होते है। ज्यादातर मुनाफा अपने बिज़नेस सेटअप और बिजनेस प्रकार पर आधारित है। यदि आप अच्छी योजना बनाकर, मार्केटिंग में ध्यान रखकर, अनुकूलित मूल्य निर्धारित करके, अच्छे ग्राहक सम्बन्ध बनाकर अच्छा मुनाफा प्राप्त कर सकते है। स्टेशनरी शॉप में आपको हर चीज बिकने पर 30 से ४० प्रतिशत मूनाफा मिल सकता है। 

Stationery Shop में कोनसी चीजे रखे

stationery shop में कही सारी चीजे रखी जा सकती है जैसे की फाउंटेन पेन, बॉल पेन, गेल पेन, फेल्ट पेन, रोलरबॉल पेन, मार्कर्स, नोटबुक, रजिस्टर, कॉपी पेपर, पर्चे, डायरी, कलेक्टर्स, स्कूल बैग, नोट पैड, पेंसिल, एरेज़र, शार्पनर, स्केल, कटर, फेविक्विक, टेप, क्लिप्स, पिंस, रबरबैंड, स्केच पेंस, कलर पेंसिल, क्रे यों, वॉटर कलर, ओयल पास्टेल, ग्रीटिंग कार्ड्स, थैंक यू कार्ड्स, बर्थडे कार्ड्स, शुभकामना कार्ड्स, कलेक्टर्स, पेन स्टैंड्स, फाइल फोल्डर्स, डेस्क ऑर्गनाइज़र, नोट पैड आदि रखी जा सकती है।

निष्कर्ष

अगर आप Stationery Shop खोलने मे इंटरेस्टेड है तो यह आपके भविष्य के लिए बहेतर ऑप्शन हो सकता है। एक प्रोफेशनल व्यवसाय की शुरुआत करने के लिए अच्छी व्यापार योजना बनाना और अच्छी मार्केटिंग रणनीतिया बनाना आपके व्यापार की सफलता की कुंजी है। बिना  कुछ किये कुछ नहीं हासिल होता इसलिए आनेवाली नवीनता पर नजर रखकर अपने व्यवसाय में अपडेट करते रहे। ऐसे बिज़नेस आइडियाज के लिए हमारी वेबसाइट की मुलाकात करते रहे। धन्यवाद !

 FAQ

  • स्टेशनरी की दुकान शुरू करने के लिए कितने पैसे चाहिए?
  1. स्टेशनरी की दुकान शुरू करने के लिए 1 से 2 लाख रुपये होना चाहिए।
  • क्या स्टेशनरी का बिजनेस अच्छा है?
  1. जी हाँ , सही तरीके से किया जाए तो सबसे अच्छा है।
  • स्टेशनरी शॉप में प्रॉफिट मार्जिन कितना है?
  1. 30 से ४० प्रतिशत 
  • स्टेशनरी के लिए टारगेट मार्केट क्या है?
  1. स्टेशनरी के लिए स्कूल, कोलेज या फिर कोई सरकारी कचेरी को टारगेट कर सकते है।
  • स्टेशनरी के सामान में क्या क्या आता है?
  1. स्टेशनरी के सामान में पेन, पेंसिल, एरेज़र, शार्पनर, स्केल, कटर, फेविक्विक, टेप, क्लिप्स, पिंस, रबरबैंड, नोटबुक, रजिस्टर, कॉपी पेपर, पर्चे, डायरी, कलेक्टर्स, नोट पैड, स्केच पेंस, कलर पेंसिल, क्रे यों, वॉटर कलर, ओयल पास्टेल, ग्रीटिंग कार्ड्स, थैंक यू कार्ड्स, बर्थडे कार्ड्स, शुभकामना कार्ड्स, कलेक्टर्स, पेन स्टैंड्स, फाइल फोल्डर्स, डेस्क ऑर्गनाइज़र आदि शामिल हो सकता है।

यह भी पढ़े 

लायब्रेरी कैसे खोले?

मेडिकल स्टोर कैसे खोले?

Leave a Comment