Insurance Agency Business Idea: Earn Powerful Income in 2024

Insurance Agency लेने का महत्त्व :- एक Insurance Agent वित्तीय सेवा क्षेत्र में काम करने वाला व्यक्ति होता है जो बीमा कंपनी और ग्राहक के बीच मध्यस्थ का काम करता है। इनका मुख्य कार्य बीमा की बिक्री में मदद करना होता है, लेकिन इसके अलावा भी उनके पास कई अन्य कार्य होते हैं। वे ग्राहकों को सही पॉलिसी चुनने में सलाह देने में मदद करता हैं, उन्हें फार्म भरने में सहायता प्रदान करता हैं, और क्लेम के समय ग्राहकों की सहायता करता  हैं। इस प्रकार, एजेंट कई महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाता हैं और विभिन्न सेवाओं को सुनिश्चित करने में मदद करता हैं।

वर्तमान समय में कहीं सारे Insurance Brokers मार्केट में अवेलेबल हैं। कहा जाता है कि एक Successful Business Agent की कमाई Government employee से दुगुनी और उससे भी ज्यादा होती है। आज हम इस ब्लॉग मे जानेगे कि Insurance agency लेकर Insurance Agent कैसे बने ?

 

Insurance Agency होती क्या है?

एक इंश्योरेंस एजेंसी एक वित्तीय संस्था होती है जो विभिन्न बीमा कंपनियों की पॉलिसियों की बिक्री और सेवाएं प्रदान करती है। ये एजेंसियां ग्राहकों को सही पॉलिसी का चयन करने में मदद करती हैं, उन्हें बीमा के लाभ और प्रीमियम के बारे में समझाती हैं, और ग्राहकों को क्लेम प्रक्रिया में सहायता प्रदान करती हैं। इसके अलावा, ये एजेंसियां बीमा कंपनियों के साथ ग्राहकों की दिक्कतों का समाधान करने में भी मदद करती हैं।

Insurance Company  द्वारा एजेंट को इंश्योरेंस करार करवाने के लिए जो एजेंसी दी जाती है उसे Insurance agency के  नाम से जानी जाती है।

Insurance Agency लेने के फायदे

इंश्योरेंस एजेंसी लेने के कई फायदे हैं। जैसे की :

  • स्वतंत्रता: एक इंश्योरेंस एजेंसी लेने से आपको अपने व्यवसाय की स्वतंत्रता मिलती है, क्योंकि आपको अपने बिक्री और व्यवसाय के निर्णयों पर पूरी नियंत्रण मिलता है।
  • अधिक आय: आपकी कमाई में वृद्धि हो सकती है, क्योंकि आप अपने क्षेत्र में अधिक ग्राहकों तक पहुंच सकते हैं।
  • उचित निर्देशन: आपको उचित निर्देशन मिलता है, जिससे आप अपने व्यवसाय को सही दिशा में ले सकते हैं।
  • बीमा जगत के ज्ञान: एजेंसी लेने से आप बीमा जगत के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं, जो आपके ग्राहकों को उनकी आवश्यकताओं के अनुसार बेहतर सेवा प्रदान करने में मदद कर सकती है।
  • संबंध निर्माण: बीमा कंपनियों और अन्य व्यापारिक संगठनों के साथ संबंध बनाने का अवसर मिलता है, जो आपके व्यवसाय के लिए फायदेमंद साबित हो सकते हैं।
  • ग्राहक सेवा: ग्राहकों को बेहतर सेवा प्रदान कर सकते हैं, क्योंकि आपके पास अधिक संसाधन होते हैं जो उनकी मदद के लिए उपयुक्त हो सकते हैं।
  • समृद्धि का माध्यम:  एजेंसी लेने से आपको अपने व्यवसाय की समृद्धि के लिए एक माध्यम मिलता है, जो आपके वित्तीय और पेशेवर लक्ष्यों को प्राप्त करने में मदद कर सकता है।

Insurance Agency कितने प्रकार की होती है?

become-insurance-agent-in-india

Independent Agency

ये एजेंसियां अनेक बीमा कंपनियों की पॉलिसियों की बिक्री करती हैं। यहाँ के एजेंट ग्राहकों को विभिन्न बीमा विकल्पों के बारे में सलाह देते हैं और उन्हें सही पॉलिसी चुनने में मदद करते हैं।

Exclusive Agency

ये एजेंसियां केवल एक ही बीमा कंपनी की पॉलिसियों की बिक्री करती हैं। इस प्रकार की एजेंसियां अक्सर उस बीमा कंपनी के साथ संबंध रखती हैं जिसकी पॉलिसियों की वे बिक्री करती हैं।

Brokerage Firm

ये फर्म ग्राहकों के लिए विभिन्न बीमा कंपनियों की पॉलिसियों की खोज करती हैं और उन्हें सबसे अच्छी विकल्प देती हैं। इन फर्मों के एजेंट ग्राहकों को विभिन्न विकल्पों के बारे में सूचित करते हैं और उन्हें सहायता प्रदान करते हैं ताकि वे सही निर्णय ले सकें।

Small business Tips जानने के लिए यहाँ क्लिक करें

Insurance Agent बनने के लिए लायकात

  • Insurance agent बनने के लिए दसवीं या बारहवीं पास होना आवश्यक है उससे ज्यादा पढ़े लिखे हैं तो आप इंश्योरेंस एजेंट बन सकते हैं। लेकिन 10 वीं कक्षा से कम शिक्षण नहीं चलेगा।
  • भारतीय इंश्योरेंस विनियामक प्राधिकरण के अनुसार, Insurance Agent बनने के लिए IRDA प्राधिकृत संस्था से 100 घंटे कि Training लेना जरूरी है।
  • Insurance Company कि Eligibility अलग अलग होती है इसलिये अब जीस कंपनी में काम करना चाहती है उस कंपनी में जाकर नियम व शर्तों के बारे में पूरी जानकारी ले लेनी चाहिए।
  • एक इंश्योरेंस एजेंसी लेने के लिए व्यक्ति को उत्कृष्ट संवादन कौशल और बीमा कंपनियों के साथ संबंधों को बनाए रखने की क्षमता भी होनी चाहिए।

Business Insurance Video के लिए यहाँ क्लिक करें

Insurance Agency कैसे ले ?

बीमा एजेंसी शुरू करने में कई चरण शामिल होते हैं। आपका मार्गदर्शन करने के लिए मैंने यहां एक सामान्य रूपरेखा देने की कोशिश की है।

1. अनुभव प्राप्ति

सबसे पहले, आपको इंश्योरेंस सेक्टर में काम करने के लिए अनुभव प्राप्त करना होगा। यह अनुभव बीमा कंपनियों में नौकरी करके, एक ब्रोकरेज फर्म में काम करके, या अन्य इंश्योरेंस एजेंसी में सहायक के रूप में ले सकते है।

2. लायसेंस प्राप्ति

इंश्योरेंस एजेंसी लेने के लिए, आपको अपने राज्य या देश की बीमा नियामक प्राधिकरण से एक लाइसेंस प्राप्त करना होगा। इसके लिए, आपको उनके निर्धारित योग्यता मानकों को पूरा करना होगा और एक लाइसेंस परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी।

3. व्यवसाय की स्थापना

लाइसेंस प्राप्त करने के बाद, आपको अपनी इंश्योरेंस एजेंसी की स्थापना करनी होगी। इसमें अपने व्यवसाय की पंजीकरण, स्थान चुनाव, कर्मचारियों की नियुक्ति, और विपणन योजना शामिल होती है। आपको अपने व्यवसाय की विभिन्न पहलुओं को ध्यान में रखना होगा ताकि आपका व्यवसाय सफल हो सके।

विश्वासपात्र बिमा कंपनी (Trusted Insurance Company in India)

इंश्योरेंस एजेंसी कहीं प्रकार ऑप्शन देती है जैसे कि, home insurance agency, health insurance agency, car insurance agency, life इंश्योरेंस एजेंसी, farm इंश्योरेंस एजेंसी आदि।

भारत में कई सारी कंपनियां इंश्योरेंस एजेंसी देती है। विश्वासपात्र Insurance Companies कि list मैने देने की कोशिश की है।

  • National insurance company
  • Sbi life insurance
  • Bharti AXA general insurance
  • The oriental insurance company
  • Reliance Nippon life insurance
  • SBI general insurance
  • Max life insurance
  • Life insurance corporation of India
  • Bajaj Allianz general insurance
  • Aegon life insurance
  • HDFC life insurance
  • Future generali India insurance
  • Indiafirst life insurance company
  • Exide life insurance Company
  • Shriram life insurance
  • Edelweiss group
  • New India insurance
  • Liberty general insurance
  • TATA AIG
  • United India insurance
  • TATA AIA life insurance Company ltd

Insurance Agency में कमाई ?

Insurance Agency में कमाई आपके व्यवसायिक क्षमता और काम करने के तरीके पर निर्भर करती है। जब आप Insurance Agency चलाते हैं, तो आपकी मुख्य आमदनी का स्रोत बीमा पॉलिसियों की बिक्री पर मिलने वाला कमीशन होता है। इसके अलावा, अधिक ग्राहक सेवा और सलाहकारी कौशलों से आप अधिक ग्राहकों को आकर्षित कर सकते हैं, जिससे आपकी बिक्री बढ़ सकती है और आपकी कमाई में वृद्धि हो सकती है। आपके व्यवसाय के संचालन से जुड़े कार्यों से भी आपको कमाई होती है, जैसे कि बीमा आवेदनों की प्रोसेसिंग, क्लेम्स प्रबंधन, और अन्य सेवाएं। इन सभी क्षेत्रों में मेहनत और सही दिशा आपको अच्छी कमाई की संभावना प्रदान कर सकती है।

निष्कर्ष 

Insurance Agency शुरू करने के लिए सावधानीपूर्वक योजना, समर्पण और बीमा उद्योग की गहरी समझ की आवश्यकता होती है। कानूनी, वित्तीय और बीमा विशेषज्ञों से परामर्श करने से यह सुनिश्चित करने में मदद मिल सकती है कि आप सही रास्ते पर हैं और सभी नियमों का अनुपालन कर रहे हैं। यदि आप सही सवालो पर सही है तो, आप insurance agency शुरुकर सकते है।

FAQ

  • बीमा सलाहकार कैसे बने?
  1. बीमा सलाहकार बनने के लिए आपको सबसे पहले बीमा व्यवसाय में काम करने के लिए उचित शैक्षिक योग्यता होनी चाहिए। फिर आपको अपने राज्य या देश के बीमा निगम या नियामक प्राधिकरण से लाइसेंस प्राप्त करना होगा। आपको अच्छी ग्राहक सेवा कौशल, बीमा की विभिन्न पहलुओं का ज्ञान, और बीमा कंपनियों के साथ अच्छे संबंध बनाए रखने की क्षमता होनी चाहिए।
  • बीमा एजेंट कौन बन सकता है?
  1. कोई भी व्यक्ति बीमा एजेंट बन सकता है जो उचित शैक्षिक योग्यता और लाइसेंस प्राप्त करने के बाद बीमा कंपनियों की पॉलिसियों की बिक्री करना चाहता है।
  • एजेंसी कितने प्रकार के होते हैं?
  1. 1. Independent Agency 2. Exclusive Agency 3. Brokerage Firm
  • बीमा एजेंट के लिए कौन सी परीक्षा देनी है?
  1. बीमा सलाहकार बनने के लिए, IRDAI परीक्षा उत्तीर्ण करके IRDAI लाइसेंस प्राप्त करना होगा।

Leave a Comment